Sunday, February 3, 2008

Mile- Stone

मेरी प्रथम प्रेम अनुभूति के लिए,

तुम हो न सकी मंजिल,
तुम हो न सकी हम सफर,
तुम न हुई, मेरी हम रही॥

ज़िंदगी की अनबूझ राहों मे,
तुम मिली,
पर साथ न चली॥
चलती भी कैसे,
तुम नही थी, मंजिल,
हम सफर,
हम राही,
तुम तो थी,
मील का पत्थर",
उस राह का ही,
जहाँ से निकलते थे,
मेरी मंजिलों के राहे॥
शुक्रिया,
तुमने दिया दिशा बोध,
और मुझे बताई, तय की गई,
और बाकी रह गई दुरीओं का पता,
और दिया पहुँचने के लिए,
चलते रहने की ज़ुरूरत का एहसास॥
मैं खुश हूँ बहुत,
अगर तुम न होती
तो मैं कैसे बढ़ता मंजिलों कि तरफ॥
शुक्रिया- बहुत,
मेरे Mile - stone..

5 comments:

कंचन सिंह चौहान said...

मैं खुश हूँ बहुत,
अगर तुम न होती
तो मैं कैसे बढ़ता मंजिलों कि तरफ॥
शुक्रिया- बहुत,
मेरे Mile - stone..

hmmmm sach jeevan ke anubhav aise hi aate hai...! bahut khub

rahul said...

Kya Baat hai janab,

aapke to har ek shabd lazawaab hai.

Yadi Comments mai Taaleeyon ki aawaz daal pata to zaroor daal deta....!!!!!...!!!

aap mere is comment ko taaleeyan samajh len to aapka shukraguzaar rahoonga.

Roma said...

bahut hi badiya bhaiya.mind blowing.........like mirror image of ur heart...

Phyliss said...

Well said.

sa said...

AV,無碼,a片免費看,自拍貼圖,伊莉,微風論壇,成人聊天室,成人電影,成人文學,成人貼圖區,成人網站,一葉情貼圖片區,色情漫畫,言情小說,情色論壇,臺灣情色網,色情影片,色情,成人影城,080視訊聊天室,a片,A漫,h漫,麗的色遊戲,同志色教館,AV女優,SEX,咆哮小老鼠,85cc免費影片,正妹牆,ut聊天室,豆豆聊天室,聊天室,情色小說,aio,成人,微風成人,做愛,成人貼圖,18成人,嘟嘟成人網,aio交友愛情館,情色文學,色情小說,色情網站,情色,A片下載,嘟嘟情人色網,成人影片,成人圖片,成人文章,成人小說,成人漫畫,視訊聊天室,a片,AV女優,聊天室,情色,性愛